×
In real life, there is no such thing as second place. Either you are a winner, or you’re not.
--Your friends at LectureNotes
Close

hindi sample paper

by Piyush AgarwalPiyush Agarwal
Type: OtherViews: 2Uploaded: 5 days ago

Share it with your friends

Suggested Materials

Leave your Comments

Contributors

Piyush Agarwal
Piyush Agarwal
........................................................................................................................................................................ (HINDI) (Second Language) (Three Hours) Answers to this paper must be written on the paper provided separately. You will not be allowed to write during the first 15 minutes. This time is to be spent in reading the question paper. The time given at the head of this paper is the time allowed for writing the answers. .................................................................................................................................................................. This paper comprises of two Sections—Section A and Section B Attempt all the questions from Section A. Attempt any four questions from Section B, answering at least one question each from the two books you have studied and any two other questions. The intended marks for questions or part of questions are given in brackets [ ]. .................................................................................................................................................................. SECTION A (40 Marks) Attempt all questions Question 1 Write a short composition in Hindi of approximately 250 words on any one of the following topics:[15] निम्िलिखित विषयों में से किसी एि विषय पर हिन्दी में िगभग २५० शब्दों में संक्षिप्त िेि लिखिए :- (i) प्रदष ू ण िततमाि यग ु िी सबसे बड़ी समस्या िै | इसिे िारण एिं निदाि पर अपिे विचार लिखिए | (ii) सदाचारी व्यक्तत जीिि िे िर पििू में सिारात्मि सोच रिते िैं | मािि जीिि में सदाचार िा मित्त्ि स्पष्ट िरते िुए समझाइए | (iii) किसी ऐसी यात्रा िा िणति िीक्जये जब आपिो एि रात स्टे शि पर बबतािी पड़ी | (iv) ‘ििी मिष्ु य िै कि जो मिष्ु य िे लिए मरे ’ उक्तत िो आधार बिािर एि ििािी लिखिए | (v) प्रस्तत ु चचत्र िो ध्याि से दे खिए और चचत्र िो आधार बिािर िोइ िेि अथिा ििािी लिखिए क्जसिा सीधा ि स्पष्ट सम्बन्ध चचत्र से िोिा चाहिए |
Question 2 Write a letter in Hindi in approximately 120 words on any one of the topics given below: - [7] निम्िलिखित में से किसी एि विषय पर हिन्दी में िगभग १२० शब्दों में पत्र लिखिए :(i) अस्िस्थ दादा जी िे स्िास््य िी जाििारी िेिे िे लिए दादी जी िो पत्र लिखिए | (ii) रे ििे िमतचारी िे दव्ु यतििार िी लशिायत िरते िुए स्टे शि मास्टर िो पत्र लिखिए | Question 3 Read the passage given below and answer in Hindi the questions that follow, using your own words as far as possible:निम्िलिखित गदयांश िो ध्याि से पहिए तथा िीचे लििे गए प्रश्िों िे उत्तर हिन्दी में लिखिए | उत्तर यथासंभि आपिे अपिे शब्दों में िोिे चाहिएँ :- अंतररि यात्री नियत ु त िोिे िे दो िषत पश्चात िी १८८६ में िल्पिा िे जीिि में यि अिसर आया जबकि उन्िें अंतररि-याि िोिक्म्बया िे अट्ठारि हदिसीय अंतररि अलभयाि िा सदस्य चुिा गया | इस तरि िे अंतररि भ्रमण िरिे िािी पििी भारतीय महििा बि गईं | बाद में उन्िोंिे अंतररि िे अपिे अिभ ु िों िे बारे में ििा िै - “मैं याि िी खिड़िी से िी अपिी धरती पर िो रिे हदि और रात िािे भागों िो नििारती रिती | मिादिीप और मिासागर धीरे -धीरे घम ू ते िोते और धरती अपिे सौंदयत िी मिोिारी छटा बबिेरती िोती| मैं यि दे ििर िै रत में पड़ जाती कि लसर्त ६० लमनिट में िमारा याि धरती िी पररक्रमा िर िेता िै – लसर्त ६० लमनिट, मैं सोचती कि िमारा ग्रि िास्ति में कितिा िघ,ु कितिा िण भंगरु िै |” िल्पिा चाििा िो अंतररि यात्रा िा दस ू रा अिसर १७ जििरी २००३ िो लमिा,जबकि िे सोिि हदिसीय अलभयाि िे लिए एि बार कर्र िोिक्म्बया-याि में अपिे छ सियोचगयों समेत सिार िुई, किन्तु इस बार िोिक्म्बया कि िापसी िी यात्रा सरु क्षित ि रि सिी | िल्पिा समेत छ: अंतररि यात्री दघ त िा िे लशिार िोिर िाि-ििलित िो गए| ु ट
आज िल्पिा चाििा ििीं िैं, िेकिि अपिे पीछे ये दृि निश्चय और िहिि पररश्रम िे दिाराअसंभि िो संभि बिािे िािी विस्मयिारी विरासत छोड़ गई िैं| आसमाि िी ऊँचाइयों िो िापते िुए भी िल्पिा िे अपिी जड़ों िी विस्मनृ त ििीं िी| िे अपिे शिर ि अपिे स्िूि ‘टै गोर बाि नििेति’ िे संपित में जीििभर बिी रिीं| उन्िीं िे प्रयासों िा र्ि िै कि प्रनतिषत उििे स्िूि से दो छात्राओं िो िासा अपिे यिाँ आमंबत्रत िरता िै| िल्पिा भारतीय यि ु ाओं विशेषिर िड़कियों िे लिए प्रेरणा िा प्रिाश-स्तंभ िैं | िल्पिा चाििा किस विदयािय में पिती थीं ? उििी िजि से आज विदयािय िो (i) तया सौभाग्य प्राप्त िै ? [2] िल्पिा चाििा िो प्रथम बार अंतररि–अलभयाि िा सदस्य िब चुिा गया ? याि िी (ii) खिड़िी से िे तया नििारा िरती थीं ? [2] (iii) अंतररि-याि कितिे लमनिट में प्ृ िी िी पररक्रमा परू ी िर िेता िै ? उसे दे ििर िल्पिा अपिे मि में तया विचार िरती थीं ? (iv) िल्पिा िो दस ू री यात्रा िा अिसर िब लमिा और िापसी में तया घटिा घटी ? िल्पिा चाििा िे जीिि से िियि ु नतयों िो तया लशिा लमिती िै ? (v) [2] [2] [2] Question 4 Answer the following according to the instructions given:निम्िलिखित प्रश्िों िे उत्तर निदे शािस ु ार लिखिए :निक्म्िखित शब्दों में से किन्िीीँ चार शब्दों िे वििोम लिखिए :- (i) अस्त, उपिार, एिमि ु ी, सािार, बािरी, ऊँचा [1] (ii) निक्म्िखित शब्दों में से किसी एि शब्द िे दो पयातयिाची शब्द लिखिए :अक्ग्ि, मंहदर [1] (iii) निक्म्िखितमि ु ािरों में से किसी एि मि ु ािरे िी सिायता से िातय बिाइये :आँिों िा तारा, िमर िसिा (iv) [1] निक्म्िखित शब्दों में से किन्िीीँ चार शब्दों िो शद्ध ु िीक्जए :पररिा, तयोंिी, शांती, उजजिि, अतीररतत, समद्र ू ी [1] निदे शािस ु ार पररितति िीक्जए :- (v) (a) रामचंद्र जी िा आदे श था इसलिए िक्ष्मण िो जािा था | (सरि िातय बिाइये) [1] (b) बािि गड् ु डे से िेि रिा िै | (िातय में लिंग बदलिए) [1] (c) राम गें द से िेिता िै | (िमतिाच्य में पररिनततत िीक्जए) [1] (d) मोिि िि विदयािय गया था | (भविष्यिाि में पररिनततत िीक्जए) [1]
SECTION B (40Marks) Attempt four questions from this section. You must answer at least one question from each of the two books you have studied and any two other questions. साहित्य सागर – laf{kIr dgkfu;k¡ ( Sahitya Sagar – Short Stories ) Question 5 Read the extract given below and answer in Hindi the questions that follow:निक्म्िखित गदयांश िो पहिए और उसिे िीचे लििए प्रश्िों िे उत्तर हिन्दी में लिखिए :“सामिे िि ृ ों िा एि िुञ्ज और िुआँ दे ििर सेि िे विचार किया कि थोड़ी दे र रूििर भोजि और विश्राम िर िेिा चाहिए | यि सोचिर िे िुञ्ज िी ओर बिे |” [ मिायज्ञ िा परु स्िार – यशपाि] [Mahayagya Ka Puraskar - Yashpal] (i) सेिजी ििाँ जा रिे थे ? तथा तयों ? [2] (ii) उन्िें विश्राम िरिे िी आिश्यिता तयों पड़ी? उन्िोंिे ििाँ विश्राम किया ? [2] (iii) उििी पोटिी में तया-तया था? तया िे भोजि और विश्राम िर पाए ? [3] (iv) 'मिायज्ञ िा परु स्िार' ििािी से आपिो तया लशिा लमिती िै ? [3] Question 6 Read the extract given below and answer in Hindi the questions that follow:निम्िलिखित गदयांश िो पहिए और उसिे िीचे लििे प्रश्िों िे उत्तर हिंदी में लिखिए :"तीसरे हदि िॉहटत िल्चर डडपाटत मेंट से जिाब आ गया। बड़ा िड़ा जिाब था और व्यंग्यपण ू त । [जामि ु िा पेड़ - िृष्ण चंदर] [Jamun Ka Ped – Krishna Chander] (i) िॉहटत िल्चर डडपाटत मेंट से तया जिाब आया और तयों ? [2] (ii) जिाब िो सि ु िर मिचिे यि ु ि िे तया जिाब हदया और तयों ? [2] (iii) दबा िुआ आदमी िौि थाऔर उसिे तया आपक्त्त प्रिट िी ? [3] (iv) प्रस्तत ु ििािी िा उद्देश्य स्पष्ट िीक्जए। [3]

Lecture Notes